Image Source - Google | Image by - CANVA
Share-market-kya-hai-in-hindi

Image Source - Google | Image by - CANVA

दोस्तों आज हम बात करने वाले है कि आखिर Stock market क्या होता है। आपने भी इसके बारे में जरूर सुना होगा। 
यदि आप भी share market में invest करते है या invest करना चाहते है तो मैं ये गारंटी के साथ कह सकता हु आपने Stock market के बारे में जरूर सुना होगा। 
और आपके मन में भी ये  सवाल कही ना कही जरूर आया होगा कि आखिर Stock market क्या होता है,Stock market से पैसे कैसे कमाए, Stock market में कंपनी कब दिखती है, Stock market कितने प्रकार के होते है, Stock market ट्रेडिंग क्या होती है

एक सवाल हमारे मन में अक्सर ये भी आता है क्या Stock market और Share market एक ही है, यदि नही तो इनमे क्या अंतर है? 
यदि आपको भी इनके बारे में नहीं पता कि तो चिंता कि कोई बात नहीं है आज हम इसी विषय पर बात करने वाले है। जिसको समझने के बाद आप भी Share market में invest कर सकते है और पैसे कमा सकते है।


Stock market क्या है?

  [Stock market in Hindi]


जैसे की आप सभी को पता है कि share का हिंदी में मतलब होता है हिस्सा और Stock market इसी सिद्धांत पर काम करता है।
चलिए उदाहरण से समझते है अगर किसी कंपनी ने कुल 20 लाख शेयर Issue किये हैं और आपने उसमें से 2 लाख Shares खरीद लिए हैं तो आप उस कंपनी के 10% हिस्सेदार बन जाते हैं| आप जब चाहें तब इन shares को Stock market में ब्रोकर्स की मदद से आसानी से बेच सकते हैं|

यदि हम बात करे कि क्या stock market और share market एक ही होता है? तो इसका एक शब्द में उत्तर होगा "हाँ"  stock market और share market एक ही होता है। अलग अलग लोग इसे अलग अलग नाम से पुकारते है।
Share market में विदेशी निवेशक भी काफी निवेश कर रहे है क्युकि शेयर बाजार में यदि आपको अच्छी जानकारी है तो आप आसानी से पैसे कमा सकते है
शेयर को Stock Exchange के माध्यम से ख़रीदा और बेचा जाता हैं भारत में दो Main Stock Exchange है 

1 ) BSE (Bombay Stock Exchange
2) NSE (National Stock Exchange)
जो brokers होते है वो इन Stock Exchange के सदस्य होते है और हम इन्ही में माध्यम से Share market में निवेश कर सकते है। ये आपको Share market में share खरीदने के लिए अच्छी कंपनी बताते है। लेकिन ये कुछ कमीशन लेते है। हम हमेशा trading ब्रोकर्स के माध्यम से ही कर सकते है।

सभी listed कंपनी के शेयरों का मूल्य BSE/NSE में दर्ज होता है. सभी listed कंपनियों के शेयरों का मूल्य उनकी लाभ कमाने की क्षमता के अनुसार घटता-बढ़ता रहता है. सभी Share market (Stock Market) का नियंत्रण Securities and Exchange Board of India (SEBI) के हाथ में होता है.
SEBI की अनुमति के बाद ही कोई कंपनी शेयर बाजार (Stock Market) में लिस्ट होकर अपना Initial Public Offering (IPO) जारी कर सकती है.

यदि आप भी BSE, NSE, SEBI के बारे में जानना चाहते है तो [BSE, NSE, SEBI के बारे में जाने] पोस्ट जरूर पढ़े।   
इसमें मैंने BSE, NSE, SEBI के बारे में एकदम बारीकी से बताया है कि इनकी स्थापना कब हुई, क्यों हुई, इनके क्या क्या काम है, यदि आप शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करते है तो आप BSE, NSE, SEBI से कैसे फायदा प्राप्त कर सकते है। 

कम्पनियां Shares कैसे Issue करती हैं?

सबसे पहले जो भी कंपनी share, issue करना चाहती है वो शेयर को stock exchange में लिस्ट करवाती है फिर SEBI के कहने पर ही Initial Public Offering (IPO) जारी करती है। और सब कुछ सही होने के बाद ही कंपनी, शेयर निश्चित मूल्य पर Public को Issue करती हैं|
इसके बाद शेयर, Stock Market में जाते है और अब जिन्हे भी वो शेयर खरीदने होते है वो शेयर को खरीद सकते है। 

Shares की कीमत कैसे बदलती हैं?

जब कंपनी द्वारा जब IPO जारी किया जाता है तो तब ही share की कीमत निर्धारित की जाती है। ऐसा नहीं है कि जितना कंपनी चाहे उतनी कीमत निर्धारित कर सकती है। इसमें SEBI और कंपनी द्वारा एक ऐसी कीमत निर्धारित की जाती है जो उस कंपनी के हिसाब से एकदम सही होती है।
शेयर के बाजार में आने के बाद शेयर की कीमत मार्केट की Demand और Supply के आधार घटती-बढ़ती रहती है 
अगर shares ख़रीदने वालो की संख्या बेचने वालो की तुलना में कम होगी तो Shares की कीमत बढ़ेंगे

    Buyers > Sellers

और अगर shares ख़रीदने वालो की संख्या बेचने वालो की तुलना में ज्यादा होगी तो Shares की कीमत घटेगी

    Sellers < Buyers

Mutual Funds क्या है?

मैंने Mutual Funds के बारे में एक पोस्ट पहले से लिखी हुई है जिसमे मैंने एक दम बारीकी से बताया है कि आखिर Mutual Funds क्या होता है
Mutual Funds के type, Mutual Funds के फायदे और नुकसान के बारे में भी बताया है। आप उसे जरूर पढ़े।

Stock के प्रकार

वैसे तो stock कई प्रकार के होते है लेकिन stock मुख्यता तीन प्रकार के होते है। चलिए जानते है।

1) Common Stock

2) Preferred Stock  

3) DVR Stock

Common Stock 

जैसे की 'आम इंसान' को English भाषा में Common man कहा जाता है ठीक उसी तरह ये ऐसे share होते है जिन्हे कोई भी Common man खरीद सकता है और बेच सकता है 

Preferred Stock

जैसे Common share को कोई इंसान खरीद सकता है लेकिन Preferred share सिर्फ कुछ खास लोगो के लिए होते है। जब कोई भी कंपनी share जारी करती है 
तो तो पैसे जुटाने के लिए कंपनी पहले कुछ खास लोगो को वो शेयर खरीदने का अधिकार देती है। इसमें निवेशकों को एक निश्चित लाभ की गारंटी दी जाती है 
लेकिन Common share में निश्चित लाभ की गारंटी नहीं दी जाती है। ऐसे शेयर Preferred share कहलाते है।


DVR Stock

यदि मैं आपको एकदम short-cut में बताऊ तो equity Stock और Preferred Stock को मिला कर इस टाइप के share को बनाया गया है 
दूसरी भाषा में हम कह सकते है कि equity Stock और Preferred Stock दोनों के गुण आपको इसमें देखने को मिल जायेंगे। 
DVR शेयर खरीदने वाले को पूरी तरह वोटिंग का अधिकार नहीं दिया जाता है और सिर्फ कुछ प्रतिशत का ही अधिकार प्राप्त होता है।
इसमें DVR शेयर खरीदने वाले अधिक लाभ भी मिलता है।
वर्तमान में भारत में दो कंपनी ने DVR शेयर जारी किया है, पहला – TATA MOTORS और दूसरा – JAIN irrigation

निष्कर्ष:-

आज हमने भी जाना कि  "Stock market क्या है? Stock market से पैसे कैसे कमाए? BSE (Bombay Stock Exchange), NSE (National Stock Exchange),  कम्पनियां शेयर्स कैसे Issue करती हैं?,  shares की कीमत कैसे बदलती हैं?, Mutual Funds क्या है?,  Stock के कितने प्रकार होते है" उम्मीद करते है कि आज कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी।
यदि आपको हमारी ये जानकारी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर जरूर करे। और कोई हमारे लिए सुझाव या प्रश्न हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये।

Post a Comment

और नया पुराने